हमार चैनार डस्या

हिमलाल चौधरी

डस्या नेपालीनक सबसे भारि टिह्वार हो नेपालम बैठ्ना हरेक नेपाली आपन जाट समुदाय आपन आपन चलन अनुसार मनैटि आइट जुनहुँकन्हक् आपन मौलिक पहिचानफे हो । थारु समुदायक मनैफे पुर्खनक चलाइल चलन अनुसार डस्सेम आपन डिउँडुर्गन ढिक्री पुज्ना टिका लगैना डौनाबेब्री जिउँरा लगाक डिउँडुर्गनसे आसिर्वाद लेक डस्या मनैटि आइट ।

थारु समुदायम डस्या घरक डिउँडुर्गा केल निहोक गाउँक महटावा डिउँठन्वा घरगुर्वा डेशबन्ढ्या गुर्वक अन्टर सम्बन्ढके संगसंग सखिया नाचसे ज्वारल बा । कौनोफे कामकाज या टैटिह्वार अइनासे पहिल वाकर सरसामा कर्ना थरुनक बानि हो । जब डस्या लस्क्याइ भिंरट हरेक ठारु घरम कुरै रिझा जाइट कुरै हरेक चिजह च्वाखा करैना चिजहो कुरै डर्लक सब चिजज्वाखा रहट कना ठारुनक मान्यटा बा । डस्सेमऔर समुदायक मनै जौक जिउँरा ढर्ठ टर ठारु समुडायम कोक्निक जिउँरा डिहुरार कोन्टी पुर्बक कोनोम ढर्ना चलन बा डहिट मनै औंसिक डिन ढर्ठ कलसे औरजे जोन्ह्या निक्रलक डिन ढर्ठ । डस्या पुजबेर डिउँटा ढुपाइकलाग आपन आपन घर गुर्वक घर टपावन लेक ढुप लेह जैना चलन बा । आपन चलन अनुसार डस्सेक डिन डिउँटा पुज्ना डिउँटन  संगसंग जिउँरा डौना बेब्री डेना टौला छाँकी ढर्काक आसिर्वाद लेनाओऔर डिन पिट्टर डेनाक र्जाइट ।

पिट्टर डेना डिन ह गवँल्या टिकक् डिनफे कैजाइट उहमार यि डिन सक्कु गाउँगवलेन मटान घर टिका फाँँँक्क सबसे पहिल डिउँ ठन्नोक डिउँटनकेम टिका लगाक मटान घरसे टिका लगाक एक आपसम आसिर्वाद लेनाडेना डोस पालिक पाला सक्कु घर टिका लगैना चलन बाजुन घरफे सबसे पहिल उ घरक डिउटन टिका लगाके बल्लऔर जाहिनकेम टिका लगाजाइट । थारुनक डिउँटा उज्जर टिका लगैना ओर्से थारुनक टिकाफे उज्जर रहट । गवँल्या टिकक् ड्वासर डिनह राजा टिका कैजाइट यि डिन सक्कुजे आपनआपन घर गुर्रोक घर टिका लगाए जैना कैजाइट कलसे यिह डिन गाउँगवलेनक टिका मटान घर जम्मा कैक उहपहुँरा लेक डेसबन्ढ्या गुर्रोक घर टिका लगाए जैनाफे कैजाइट ।

थारु समुदायम डस्सेह चैनार ओ गाउँअज्रार भर्यावन बनाइकलाग सख्या नाचनच्ना चलन बा यि नाचपाँच पन्डावनक नाचहो कैक फे कैजाइट । अस्टिम्कीक डिन सख्या गीत गोंरी लिहट कलसे हर्या गुर्रैम झाँझर माँझर खुल्लसे सख्यानाचनच्ना डिन सुरु हुइट । सख्यानाच डिउँडुर्गनके नाचहो यि नाचगाउँक लवन्डिन डिउ ठन्नोक डिउटन सम्हरके डिउँ डुर्गनसे आसिर्वाद लेक सन्झ्या सन्झ्या मटान अङन मनच्ना कर्ठकलसे डस्सेम सक्कु घर चैनार बनाइकलाग गाउँभर नच्ना कैजाइट । डस्या ओरैलसे डिउँडुर्गन स्यावा ढ्वागलाग्क सख्या नाच नाचक सेक्जाइट डस्या नाचनाच सुरु कर्लक डिन डिउँटा सम्ह्ररल डिन कठ कलसे सेक्लक डिन डिउँटा बैठैलक डिन कैजाइट ।

डस्या एकठो ठारुनक टिह्वार केल निहोक आपन ढर्म कला सस्कार सस्कृतिक आस्ठा बिस्वास ओ पारिवारिक सामाजिक एकटा सडभाव फे हो । डस्या डिउँ ठन्वा महटावा घरगुर्वा डेसबन्ढ्या ओ गाउँ समाजक अन्टर सम्बन्ढके मिलन बिन्डुहो । सख्या नाचम बाइस ख्वाट मन्ड्रा बाइस अड्रिक नाच केल निहोक डसिहा गिट इसरु ओ जासुक छावा कान्हा ओ राढक मैया प्रेमम सट्यक जिट ओ असट्यकहार हुइलकमहा भारतक कठा बस्टुम आढारिट एकठो गिति काव्य हो । डस्या गाउँघर गुल्जार चैनार कराक हरेक मनम खुसि करैना एक बल्गर समाज परिवर्तनक सन्डेस बोक्लक महतवपुर्ण टिह्वार हो ।

 

अग्रासन खबर

प्रतिक्रिया दिनुहोस्

संबन्धित समाचार

भर्खरै प्रकासित